दिवाली पर पूजा के बाद दीपक से क्यों बनाया जाता है काजल?

0

दिवाली पर सालों से एक परंपरा कई लोगों के घरों में देखने को मिल रही है और वो दिवाली के मुख्य बड़े दीए से काजल बनाना. जी हां, रात को लक्ष्मी-गणेश पूजा के बाद इस्तेमाल में लाए गए बड़े दीपक से घर की महिलाएं काजल बनाती हैं और घर में मौजूद सभी सदस्यों को लगाती हैं. लेकिन ऐसा क्यों?

दिवाली की रात क्यों बनाया जाता है काजल?

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार काला टिका या फिर काजल के इस्तेमाल को हमेशा बुरी शक्तियों या कहें नेगेटिव वाइव्स से बचाने के लिए लगाया जाता रहा है. ऐसा माना जाता है कि दिवाली की रात भी पूजा के दीपक से बनाया हुआ काजल लगाने से बुरी नज़र नहीं लगती और घर की सुख समृ्द्धि कोई रुकावट पैदा नहीं होती. इसीलिए तिजोरी, घर का चूल्हा, दरवाज़ों आदि पर भी काला टीका लगाया जाता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

86 + = 87