एक ही चरपाई पर सोए दो भाइयों को सांप ने डसा, झाड़ फूंक के चक्कर में गई जान

0
The two brothers were killed by snake bite,

उ प्र के बलिया जिले के सुखपुरा थानाक्षेत्र में सांप के डसने से दो सगे भाइयों की मौत हो गई है। पुलिस ने बताया कि राजकुमार राम के दो बेटे रवि दस वर्ष और अक्षय 13 वर्ष कल रात एक ही चारपायी पर सोये थे। रात में चारपायी पर चढे़ सांप ने दोनों को डस लिया । पुलिस के अनुसार, परिवार वालों ने इलाज कराने की बजाय झाड़ फूंक कराना शुरू किया। कुछ राहत हुई तो दोनों भाइयों को घर ले आये लेकिन कुछ देर बाद उनकी हालत फिर बिगड़ने लगी। पुलिस ने बताया कि उन्हें जिला अस्पताल लाया गया, जहां दोनों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया ।
सांप काटने पर क्या करें :
– मरीज को शांत रखने की कोशिश करें। मरीज जितना घबराएगा रहेगा उसका रक्तचाप भी उसी गति से बढ़ेगा।
– जिसे सांप ने काटा है उस व्यक़्ति के शरीर पर से सारी चीजें जैसे घड़ी, कड़ा, कंगन, अंगूठी, पायल, चेन व जूते चप्पल आदि सभी चीजें उतार लें।
– व्यक्ति को बेहोश नहीं होने दें। अगर वह बेहोशी की हालत में हो भी तो उसकी सांसों पर ध्यान रखें और गर्माहट प्रदान करने का पूरा प्रयास करें।
– पीड़ित को सीधा लेटाकर रखें, अन्यथा शरीर में हलचल होने से जहर फैल सकता है।
-यदि हाथ में सांप ने काटा है तो उसे नीचे की ओर लटकाकर रखें ताकि जहर दिल तक पहुंचने में वक्त लग सके। यदि पैर में काटा है तो पलंग पर इस तरह लिटा दें ताकि मरीज के पैर नीचे लटके रहें।
– सर्पदंश के स्थान को पोटेशियम परमेगनेट या लाल दवा के पानी अथवा साबुन से धोना चाहिए।
– सर्पदंश के स्थान से दो इंच उपर कपड़े की पट्टी अथवा रस्सी कसकर बांध दें। पट्टी लगभग एक इंच चौड़ी होना चाहिए, साथ ही दंश के 20 मिनट के अंदर बांधी जानी चाहिए।
– पट्टी इतना टाइट भी नहीं बांधना चाहिए जिससे खून का प्रवाह पूरी तरह बंद हो जाए। जितने ज्यादा क्षेत्र में पट्टियां बांधेगे उतना फायदा होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

− 3 = 4