अरबन हेल्‍थ सेण्‍टर के कर्मियों को दिया टीबी का प्रशिक्षण

0

अरबन हेल्‍थ सेण्‍टर के कर्मियों को दिया टीबी का प्रशिक्षण

–   टीबी के लक्षण कारण और बचाव के बारे में दी जानकारी

–   टीबी के रोगियों की पहचान करने के तरीके भी बताए गए

संतकबीरनगर। 23 अप्रैल 2019जिला क्षय रोग कार्यालय में एक प्रशिक्षण कार्यक्रम का अयोजन मंगलवार को किया गया। कार्यक्रम में जिले में मौजूद दो अरबन हेल्‍थ सेण्‍टरों के चिकित्‍सकों, फार्मासिस्‍टों, आशा, स्‍टाफ नर्स व एएनएम को टीबी के लक्षण, कारण व बचाव के बारे में जानकारी दी गई
प्रशिक्षण में उपस्थित स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों को सम्‍बोधित करते हुए जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ एस डी ओझा ने बताया कि टीबी एक संक्रामक रोग है। भारत सरकार ने इसे वर्ष 2025 तक जड़ से मिटाने का संकल्‍प लिया है। इस संकल्‍प को पूरा करने में आप सभी लोगों की भूमिका महत्‍वपूर्ण है। शहरी क्षेत्र में प्रदूषण के चलते इसके फैलने की संभावना काफी रहती है। इसलिए इसका विशेष ध्‍यान देना चाहिए। उन्‍होने टीबी के लक्षणों के साथ ही इसके कारणों के बारे में भी जानकारी दी। साथ ही साथ दवाओं के बारे में भी बताया कि कौन सी दवा किस स्‍टेज में दी जानी चाहिए। इस दौरान जिला कार्यक्रम समन्‍वयक अमित आनन्‍द ने बताया कि टीबी लाइलाज नहीं है। इसे इलाज के जरिए जड़ से ठीक किया जा सकता है। हर तरह के टीबी की दवाएं मौजूद हैं। आप सभी लोग जनता के बीच जाकर इसके लक्षणों, कारणों व बचाव के बारे में जनता को जानकारी दें। यदि कोई भी टीबी का संभावित रोगी दिखे तो उसकी तुरन्‍त ही जांच कराएं। ताकि इलाज के जरिए उसे ठीक किया जा सके। इस दौरान अरबन हेल्‍थ सेण्‍टर के समन्‍वयक सुरजीत, पीपीएम कविता पाठक, नीलिमा के साथ ही मगहर और कांशीराम आवास अरबन हेल्‍थ सेण्‍टरों के फार्मासिस्‍ट, एएनएम और आशा कार्यकत्रियां उपस्थित थीं। 

रिपोर्ट राम बेलास प्रजापती

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

9 + 1 =