सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव का बयान

0
सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव का बयान

सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव का बयान

प्रेस कॉन्फ्रेंस में टोटी लेकर आए अखिलेश

‘सरकार गिनती बताए सारी टोटी वापस कर दूंगा’

‘अपनी पसंद को दूसरों के पैसे से नहीं पूरा करते’

‘मैंने उस घर को अपने तरीके से बनाया था’

‘आप लोगों को पता है टोटी किसने निकाली’

टोटी गंजेडी और भंगेड़ी निकालते हैं-अखिलेश

सीएम के ओएसडी अभिषेक गए थे-अखिलेश

4 वीडी ओएसडी अभिषेक गए थे – अखिलेश

मीडिया से पहले ओएसडी अभिषेक गए – अखिलेश

बीजेपी सरकार पर अखिलेश यादव का हमला

टोटी ढूंढने वालों से चिलम ढूंढवाऊँगा – अखिलेश

एक-एक कोने की करीब से फोटो खींची-अखिलेश

तस्वीर को बदल कर दिखाया गया – अखिलेश

लोग गुस्से और जलन में अंधे हो रहे-अखिलेश

‘मैं जहां रहता हूं घर को सजा कर रहता हूं’

‘जिस समय घर मिला था वो भी दिखाएं’

अंधे लोग बताएं स्वीमिंग पुल कहां है-अखिलेश

हजारों बच्चे मेरे घर में आए – अखिलेश

‘अंधे लोग बच्चों से पूछे स्वीमिंग पुल कहां था’

घूसकांड पर अखिलेश यादव ने साधा निशाना

प्रमुख सचिव के खिलाफ चिट्ठी लिखी गई – अखिलेश

वो चिट्ठी नहीं दिखी – सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव

लैपटॉप से ज्यादा की टोटी नहीं है – अखिलेश

अपने संसाधनों से लैपटॉप दिए – अखिलेश

टोटी के लिए बदनाम कर रहे – अखिलेश

लकड़ी का पलग मेरा वहीं है – अखिलेश

घर में जाली मैंने लगवाई – अखिलेश यादव

सरकार के पास मंदिर का बिल नहीं – अखिलेश

मेरा मंदिर पास करें – अखिलेश यादव

सरकार बिल दिखाए या मेरा बिल दे – अखिलेश

बीजेपी का छोटा दिल है – अखिलेश यादव

मैंने यूपी में वर्ल्ड क्लास इंफ्रास्ट्रक्चर दिया-अखिलेश

गोरखपुर-फूलपुर हार बर्दाश्त नहीं कर पा रहे-अखिलेश

अपमान का जनता बदला लेगी – अखिलेश

हम कोर्ट का फैसला मानते हैं – अखिलेश

‘सीएम आवास में आज भी मेरा निजी सामान’

बंगले में कोई तोड़फोड़ नहीं की – अखिलेश

सरकारें साजिश कर रही – अखिलेश

बीजेपी सरकार मेरे काम से जली हुई है-अखिलेश

अपनी लड़ाई खुद लड़े – अखिलेश यादव

‘कागज से कागज मिलाओ सच्चाई सामने आएगी’

‘जो आरोप लगे उसका सरकारी बिल दिखाए सरकार’

‘ज्ञान देना जरूरी है, ट्विटर पर हर बात रखता हूं’

मीडिया को सच्चाई दिखानी चाहिए – अखिलेश

घर छोड़ने के बाद कौन-कौन गया वहां – अखिलेश

‘दो निर्दोष जिलाधिकारियों को सस्पेंड किया’

‘जहां असली खनन हो रहा वहां कार्रवाई नहीं’

पत्रकार प्रदीप कुमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

7 + 3 =