शटल बस चालक रूटों से अनजान, लोग हुए परेशान

0

शटल बस चालक रूटों से अनजान, लोग हुए परेशान

प्रयागराज : श्रद्धालुओं को पार्किंग स्थलों से संगम तक जाने में दिक्कत न हो, इसके लिए रोडवेज की शटल बसों को लगाया गया है। अभी तक विभिन्न मार्गों पर 217 शटल बसें चल रही थीं, पहले शाही स्नान पर्व पर इसकी संख्या 500 हो गई है। बसों की संख्या दोगुनी होने पर उसके सभी चालक रूटों से वाकिफ नहीं हैं। ऐसे में चालक रूट को लेकर असमंजस में रहे। इसके कारण यात्रियों को परेशानी हुई। श्रद्धालुओं की संख्या अधिक है। उसकी तुलना में शटल बसें कम हैं। इसलिए भी यात्री परेशान हो रहे हैं

कम्बल वितरण जरूरतमंदों के लिए आप भी सहभागी हो
कम्बल वितरण जरूरतमंदों के लिए आप भी सहभागी हो

रोडवेज ने एक जनवरी से कुंभ मेला क्षेत्र के लिए 217 शटल बसों का संचालन शुरू कर दिया था। नियमित चलने वाले शटल बस चालक तो रूट से परिचित हो चुके थे जिसके चलते उन्हें परेशानी नहीं हुई लेकिन जो रूट से सही से परिचित नहीं थे, उन बस चालकों को ज्यादा दिक्कत हुई। नेहरू पार्क से फाफामऊ, अंदावा दुर्जनपुर, अंदावा से संत निरंकारी, लेप्रोसी चौराहा, अंदावा दुर्जनपुर से फाफामऊ, आइटीआइ की तरफ बसें आ रही हैं। बसों में अभी तक परिचालक भी थे, इसलिए वह रास्ता पूछ लेते थे। अब बस में चालक ही रहता है। इसलिए उन्हें दिक्कत हो रही है। कई रूट पर ऐसा हुआ कि चालक गलत सड़क की तरफ बस लेकर चले गए। बाद में फिर बस को वापस लौटाया गया।

रिपोर्ट :- कौशलेश कुमार पाल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

− 1 = 1