सम्पूर्ण कुम्भ मेला क्षेत्र को मच्छर, मक्खी विहीन करने के निर्देश

0
Online Hindi news paper khabren apne nagar ki
Online Hindi Newspaper: खबरें अपने नगर की

प्रयागराज :-सम्पूर्ण कुम्भ मेला क्षेत्र को मच्छर, मक्खी विहीन करने के निर्देश
सभी अधिकारी मेला ड्यूटी को सर्वोच्च प्राथमिकता पर लें, बहानेबाजी बर्दाश्त नहीं की जायेगी
-कमिश्नर प्रयागराज मण्डल

कम्बल वितरण जरूरतमंदों के लिए आप भी सहभागी हो
कम्बल वितरण जरूरतमंदों के लिए आप भी सहभागी हो

    कमिश्नर प्रयागराज मण्डल डाॅ0 आशीष कुमार गोयल ने कुम्भ मेला सहित शहर क्षेत्र में भी साफ-सफाई पर विशेष बल देते हुए सम्बन्धित विभागों के उच्चाधिकारियों को सम्पूर्ण कुम्भ मेला क्षेत्र को मच्छर एवं मक्खी विहीन करने का सख्त निर्देश दिया। उन्होंने कुम्भ मेला व्यवस्था से जुड़े सभी अधिकारियों को कड़े निर्देश दिया कि वे मेला ड्यूटी को सर्वोच्च प्राथमिकता पर लें। मेला ड्यूटी में किसी भी प्रकार की हीलाहवाली और बहानेबाजी को कत्तई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा और न ही किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य होगी। मण्डलायुक्त बुधवार को कुम्भ मेला स्थित मेला कार्यालय में सम्बन्धित विभागों के उच्चाधिकारियों के साथ बैठक में विभागवार मेला कार्यों की प्रगति की समीक्षा कर रहे थें। सभी विभागों के उच्चाधिकारियों ने अपने-अपने विभाग के कार्यों की प्रगति रिपोर्ट की जानकारी दी। 
    उन्होंने विभागों के सहयोग के लिए लगाये गये स्वयंसेवकों के साथ अच्छा व्यवहार करने की अधिकारियों को नसीहत भी दी। कहा कि सभी विभागों के अधिकारी आपस में बेहतर समन्वय बनाकर एक टीम भावना से काम करें। उन्होंने इसी कड़ी में मेला आफिस की कार्य संस्कृति की प्रशंसा भी की। मण्डलायुक्त ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि वेण्डर्स और स्टाॅफ का पास एक सप्ताह में अवश्य जारी हो जाय। उद्यान विभाग द्वारा गमलों की तैयारी न होने और मनमाने तरीके से चैराहों पर गमलें लगा देने पर नाराजगी जताई और कहा कि चैराहों पर प्रयागराज विकास प्राधिकरण द्वारा गमलें लगाये जायेंगे। उन्होंने मोर्चरी रोड का काम शीघ्र पूरा कराने का निर्देश दिया। मण्डलायुक्त ने बिजली के खम्भों पर अवैध होर्डिंग और साइनेज को अभियान चलाकर तत्काल हटाने का निर्देश दिया। साथ ही यह भी कहा कि रोड साइड पर अवैध होर्डिंग कत्तई नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि होल्डिंग एरिया में यह देख लिया जाये कि पानी, बिजली और शौचालय की मुकम्मल व्यवस्था सुनिश्चित रहें। मेला प्रारम्भ हो गया है और यदि किसी विभाग का काम अभीतक पूरा नहीं हुआ है तो शेष काम को तत्काल पूरा कर लें। 
    मण्डलायुक्त ने लोक निर्माण विभाग, जल निगम, विद्युत विभाग के अधिकारियों को निचले स्तर के कर्मचारियों से बेहतर समन्वय बनाकर कार्य करने पर जोर देते हुए कहा कि निचले स्तर का यदि कोई कर्मचारी कोई समस्या बताता है तो उसकों गम्भीरता से लिया जाये और उसका तत्काल समाधान सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि डाॅक्टरों की ड्यूटी प्रारम्भ हो गयी है और उनकी ड्यूटी दिखनी चाहिए। डाॅक्टर सेक्टरों में कम से कम दो बार जाकर साफ-सफाई आदि का निरीक्षण करें और कोई कमी हो तो उसको तत्काल दूर करायें। कहा कि सेनेटरी कालोनी को वह स्वयं देखेंगे। श्रमिकों के भुगतान पर जोर देते हुए कहा कि श्रमिकों का भुगतान कत्तई न रूके और इस बात का विशेष ध्यान रखा जाय कि उनको किसी प्रकार की परेशानी न हो। श्रमिकों को कोई समस्या होगी तो उसके लिए सम्बन्धित विभाग के उच्चाधिकारी जिम्मेदारी माने जायेंगे। श्रमिकों को शिक्षित करने और उनके बच्चों को स्कूल भेजनें को भी कहा। मेलाधिकारी श्री विजय किरन आनन्द ने सभी विभागों के मेला में अधिष्ठान बने और सेक्टरों के अधिकारी, कर्मचारी मेला में रूके ताकि संस्थाओं आदि की समस्याओं के समाधान के लिए उनको कोई परेशानी न हो। बैठक में कुम्भ मेलाधिकारी श्री विजय किरन आनन्द, डीआईजी श्री के0पी0 सिंह, प्रयागराज विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री भानुचंद्र गोस्वामी, नगर आयुक्त डाॅ0 उज्जवल कुमार सहित अन्य सम्बन्धित विभागों के उच्चाधिकारीगण मौजूद थे। 

रिपोर्ट कौशलेश कुमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

34 − = 30