प्रयागराज:-कुम्भ मेला क्षेत्र में स्वास्थ्य विभाग के द्वारा मीडिया कार्यशाला का किया गया आयोजन

0
Online Hindi news paper khabren apne nagar ki
Online Hindi Newspaper: खबरें अपने नगर की

    प्रयागराज:-कुम्भ मेला क्षेत्र में स्वास्थ्य विभाग के द्वारा मीडिया कार्यशाला का किया गया आयोजन

कुम्भ के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग द्वारा एडिशनल डायरेक्टर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण प्रयागराज मण्डल डा0 ए0के0 पालीवाल की अध्यक्षता व ब्थ्।त् के सहयोग सें एक मीडिया कार्यशाला का आयोजन किया गया। डा0 ए0के0 पालीवाल द्वारा कार्यशाला का उद्घाटन के बाद डा0 ऋषि सहाय, नोडल अधिकारी आपदा प्रबन्धन ने स्वास्थ्य विभाग की समस्त सेवाओं व आपदा प्रबन्धन से सम्बन्धित समस्त व्यवस्था व तैयारियों की प्रस्तुति की। उन्होंने बताया कि कुम्भ मेला में स्वास्थ्य विभाग ने चिकित्सीय सेवाओं के साथ-साथ सेनिटेशन, वेक्टरबर्न डिजिज, साॅलिड वेस्ट मेनेजमेंट व आपदा प्रबन्धन की सम्पूर्ण व्यवस्था किया है

कम्बल वितरण जरूरतमंदों के लिए आप भी सहभागी हो
कम्बल वितरण जरूरतमंदों के लिए आप भी सहभागी हो

     चिकित्सीय व्यवस्था में मेला क्षेत्र में सेक्टर-2 में एक 100 बेड का केन्द्रिय चिकित्सालय स्थापित किया गया जिसमें हर विशेषज्ञ 24 घण्टे उपलब्ध रहेंगे व एक्सरे, अल्ट्रा साउण्ड, पैथालाॅजी की सुविधाएँ होंगी। इसके साथ 11 अन्य 20 बेड के सर्किल हाॅस्पिटल के द्वारा समस्त 20 सेक्टरों में चिकित्सीय सुविधाएँ उपलब्ध करायी जाएँगी, जिसमें सेक्टर 14 व 20 में 20 बेड के 2 संक्रामक रोग चिकित्सालय भी बनाए गए हैं। इनके अलावा मेला क्षेत्र में 25 फस्र्ट एड पोस्ट व मेला क्षेत्र के बाहर 10 आउट हेल्थ पोस्ट स्थापित किये जा रहे हैं। 
    उन्होंने बताया कि सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में लगभग सवा लाख टाॅयलेट स्थापित करते हुए स्वास्थ्य विभाग एक नया कीर्तिमान हासिल कर रही है जो कि गीनिस बुक आॅफ वल्र्ड रिकार्ड में दर्ज होगा। उनका साॅलिड वेस्ट मेनेजमेंट भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा कराया जा रहा है।
    उन्होंने बताया कि संक्रामक रोगों के रोकथाम के लिए वेक्टर कंट्रोल यूनिट बनाई गयी है जिसमें एक प्रभारी अधिकारी, 6 जोनल अधिकारी, 20 सेक्टर अधिकारी व 36 सर्किल में सर्किल इन्सपेक्टर व दो से तीन सुपरवाईजर प्रति सर्किल पूरे मेला क्षेत्र में एन्टी लारवल स्प्रेइंग व डी.डी.टी. फाॅगिंग द्वारा मच्छर, मक्खियों व अन्य कीटाणुओं द्वारा संक्रामक रोग की रोकथाम करेंगे। इसके अतिरिक्त एक टीम जिसमें दो असिस्टेंट मलेरिया आॅफिसर, दो मलेरिया इन्सपेक्टर व 6 फील्ड वर्कर 24 घण्टे हेड क्वार्टर पर उपलब्ध रहेंगे।
   
रिपोर्ट :- कौशलेश कुमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

32 + = 41