मराठा आरक्षण के फैली आग की लपटें अब देश की आर्थिक राजधानी मुंबई तक पहुंच गई हैं

0

मुंबई। मराठा आरक्षण के फैली आग की लपटें अब देश की आर्थिक राजधानी मुंबई तक पहुंच गई हैं। बुधवार को मुंबई में बंद के दौरान हिंसा की कई घटनाएं सामने आई हैं। ठाणे के वेगल एस्टेट इलाके में नगर परिवहन की एक बस पर तोड़फोड़ की गई है। मराठा आरक्षण की मांग को लेकर मराठा क्रांति मोर्चा ने बुधवार को मुंबई, नवी मुंबई, ठाणे, पालघर और रायगढ़ बंद का आह्वान किया। यहां के कई इलाकों में इसका असर देखा जा रहा है। ठाणे, नवी मुंबई, घाटकोपर, मुलुंड में आंदोलनकारियों ने बाजार को खुलने नहीं दिया। नवी मुंबई के घंसोली में प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम कर दो बसों पर पथराव किया।

ये है मामला
आपको बता दें कि मराठ आरक्षण को लेकर आंदोलनकारी अन्य पिछड़ा वर्ग के तहत मराठा समुदाय के लिए सरकारी नौकरियों और शिक्षा में 16 फीसदी आरक्षण की मांग कर रहे हैं। यह मामला बॉम्बे हाईकोर्ट में लंबित है। उधर मंगलवार को मराठा आरक्षण की मांग को लेकर औरंगाबाद में युवक की आत्महत्या के बाद महाराष्ट्र के कई जिलों में हिंसक प्रदर्शन हुआ। हालांकि पुलिस ने इन मामलों के पीछे वजह के रूप में मराठा आरक्षण को स्पष्ट नहीं किया है। वहीं एक कॉन्स्टेबल की ऑन ड्यूटी हृदय गति रुकने से मौत हो गई।

उधर..देवगांव रंगरी निवासी एक किसान ने औरंगाबाद ग्रामीण इलाके में जहर पीकर जान देने की कोशिश की। जान देने वाले किसान का नाम जगन्नाथ सोनावणे है जबकि इसकी उम्र करीब 50 वर्ष बताई जा रही है। मिली जानकारी के मुताबिक उनका खेत उस पुल के बगल में स्थित था जहां आंदोलन चल रहा था।

यहां सुलग रही आरक्षण की आग
– कल्याणः निजी स्कूलों में छुट्टी घोषित
– मुलुंडः टोल नाका पर प्रदर्शनकारियों ने ***** जाम किया

– पवई: आय आय टी पवई में किया रास्ता रोको


– कांदिवलीः हनुमान नगर में बेस्ट बसों को रोका
– पालघरः बस और निजी रिक्शा सेवा बंद
आपको बता दें कि मंगलवार को दादर के राजर्षि शाहू सभागृह में मराठा क्रांति मोर्चे की बैठक में फैसला किया गया कि बंद में स्कूल-कॉलेजों, मेडिकल स्टोर, ऐंबुलेंस और मूलभूत सुविधाओं को शामिल नहीं किया गया है।

शिवदिनेश शर्मा की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

7 + 1 =