नए वित्तीय वर्ष की शुरुआत! आज से बदल जाएगा बहुत कुछ

0

आज एक अप्रैल है यानी आज से नए वित्त वर्ष का आगाज हो रहा है. नए वित्तीय वर्ष में आपके जीवन में काफी कुछ बदल जाएगा. इन बदलावों में कुछ बदलावों से तो आपको राहत मिलेगी लेकिन कुछ बदलाव ऐसे हैं जो आपकी परेशानी बढ़ा सकते हैं. कौन से हैं बदलाव

5 लाख तक की आय पर कोई टैक्स नहीं

आज से पांच लाख रुपये तक की इनकम पर कोई टैक्स नहीं देना होगा. लेकिन अगर आपकी आय इससे ज्यादा है तो आपको पुरानी दरों के हिसाब से ही टैक्स देना पड़ेगा. इसके साथ ही आज से आप ज्यादा टैक्स बचा पाएंगे. दरअसल स्टैंडर्ड डिडक्शन को 40 हजार रुपये से बढ़ाकर 50 हजार रुपये करने का एलान भी सरकार ने अंतरिम बजट 2019 में किया था.

घर खरीदना होगा सस्ता

आज से घर खरीदना भी सस्ता हो जाएगा. जीएसटी की नई दरें आज से लागू होंगी इससे अंडर कंस्ट्रक्शन घरों पर GST 5% और किफायती श्रेणी वाले मकानों पर 1% GST लगेगा, पहले ये आठ प्रतिशत था.

नेशनल पेंशन स्कीम में मिलने वाले ब्याज पर टैक्स नहीं

सरकार ने एनपीएस में लगाया जाने वाला पैसा, उससे आने वाला ब्याज और मैच्योरिटी पीरियड पूरा होने पर मिलने वाला अमाउंट तीनों को टैक्स फ्री कर दिया है. इसे EEE यानी एग्जेंप्ट-एग्जेंप्ट-एग्जेंप्ट का दर्जा दिया है. एनपीएस में सरकार ने अपने योगदान में भी बढ़ावा किया है, इसे 10 फीसदी से बढ़ाकर 14 फीसदी किया गया है. यह बदलाव भी आज से लागू होगा.

10 फीसदी महंगी होंगी प्राकृतिक गैसें

आज से प्राक्रतिक गैस की कीमतों में भी 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी होगी. प्राकृतिक गैस महंगी होने से सीएनजी और पाइप वाली रसोई गैस (पीएनजी) महंगी हो जाएगी. इसके साथ ही यूरिया उत्पादन की लागत भी बढ़ जाएगी.

कई कंपनियों की गाड़ियां महंगी हो जाएंगी

लागत बढ़ने और अन्य आर्थिक कारणों से विभिन्न कंपनियों के वाहन एक अप्रैल से महंगे हो जाएंगे. इनमें महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा मोटर्स, टोयोटा, निसान इंडिया और रेनो जैसी कंपनियां शामिल हैं.

देश को तीसरा सबसे बड़ा बैंक मिल जाएगा

बैंक ऑफ बड़ौदा, देना बैंक, विजया बैंक का विलय होने से आज देश का तीसरा सबसे बड़ा बैंक मिल जाएगा. आज होने वाले इस विलय के बाद देना बैंक और विजया बैंक के कर्मचारी, खाते, शेयर आदि बैंक ऑफ बड़ौदा के अधीन हो जाएंगे.

ट्रेन टिकट की रकम हो सकेगी रिफंड

आज से अगर आप एक ट्रेन से यात्रा के बाद दूसरी ट्रेन में सफर करेंगे तो इन दोनों यात्राओं के लिए आपको एक ही पीएनआर जारी किया जाएगा. इस नए नियम के आने से अगर पहली ट्रेन लेट होने के कारण अगली ट्रेन छूट जाती है तो उन्हें अगली यात्रा का पूरा पैसा रिफंड मिलेगा.

नौकरी बदलने पर स्वतः ट्रांसफर हो जाएगा PF

नए वित्तीय वर्ष में ईपीएफओ के नए नियम भी आज से लागू हो जाएंगे. इसके तहत नौकरी बदलने पर आपके पीएफ का पैसा अपने आप ट्रांसफर हो जाएगा. अभी ईपीएफओ के सदस्यों को UAN (यूनिवर्सल अकाउंट नंबर) रखने के बाद भी पीएफ ट्रांसफर करने के लिए अलग से आवेदन करना पड़ता है.

टीडीएस की सीमा बढ़कर 40 हजार होगी

नए वित्तीय वर्ष में ब्याज से होने वाली आय पर टीडीएस की सीमा सालाना 10 हजार रुपये से बढ़कर 40 हजार रुपये हो गई है. अभी तक ये जमाकर्ता 10 हजार रुपये प्रति वर्ष तक की ब्याज आय पर कटे कर का रिफंड मांग सकते थे.

अनुराग पाल की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

29 − 23 =