मुंबई में भारी बारिश: लोकल ट्रेनों में 15 से 20 मिनट की देरी, पेड़ गिरने से दो की मौत

    0

    मुंबई.   शहर में रविवार देर रात से भारी बारिश हो रही है। निचले इलाकों में पानी भर गया। इससे वेस्टर्न, हार्बर और सेंट्रल रेलवे लाइन के ऑपरेशन पर असर पड़ा। सोमवार सुबह लोकल ट्रेनें 15 से 20 मिनट की देरी से चलीं। एमजी रोड इलाके में पेड़ गिरने से 2 लोगों की मौत हो गई। 5 जख्मी हो गए। सांताक्रूज, वडाला, अंधेरी, बांद्रा, हिंदमाता, दादर समेत खार सबवे, मलाड सबवे, अंधेरी सबवे और सायन फ्लाईओवर पर लंबा जाम देखा गया। उधर, गुजरात के भी कई इलाकों में पिछले 24 घंटे से तेज बारिश हो रही है। वलसाड जिले के उम्बेरगांव में जगह-जगह पानी भरा गया। भिलाड़ और सांजन के बीच रेल संपर्क टूट गया है। पश्चिम रेलवे का कहना है कि जल्द ही इस लाइन पर यातायात को सामान्य कर दिया जाएगा।

    मुंबई में 27 जून तक 30 से 40 मिमी बारिश होने का अनुमान:  स्काईमेट के अफसर महेश पालावत के मुताबिक, मुंबई और उससे सटे इलाकों में 27 जून तक रोजाना 30 से 40  मिमी बारिश हो सकती है। मुंबई में मानसून ने 7 जून को दस्तक दी थी, लेकिन इसके बाद मानसून कमजोर रहा। मौसम विभाग ने बताया कि सांताक्रूज में रविवार सुबह 8.30 बजे से शाम 8 बजे तक 94.7 मिमी बारिश दर्ज की गई है। वडाला के एंटाप हिल में निर्माणाधीन दीवार गिरने से सात कारों को नुकसान पहुंचा।

    अब तक 25% क्षेत्र में ही सामान्य बारिश: मानसून आए हुए लगभग एक महीना होने को है, लेकिन अब तक देश के 25% भूभाग में ही सामान्य या सामान्य से ज्यादा बारिश हुई है। मौसम विभाग ने उम्मीद जताई है कि मानसून के एक बार फिर सक्रिय होने से अगले सप्ताह मध्य और उत्तर भारत में बारिश के हालात बनेंगे। मौसम विभाग के अतिरिक्त महानिदेशक मृत्युंजय महापात्रा ने कहा है कि मानसून के आगे बढ़ने के लिए अब अनुकूल हालात हैं। रविवार को यह गुजरात के सौराष्ट्र, वेरावल और अहमदाबाद, महाराष्ट्र के अमरावती की ओर बढ़ा है।

    शिव दिनेश शर्मा की रिपोर्ट

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    73 + = 75