जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह को ‘विकास पुरूष’ की उपाधि से आर्य समाज ने किया अलंकृत

0

ललितपुर से पत्रकार मानसिंह, 

आर्य वीरांगनाओ के शस्त्र चालान ने शोभायात्रा की बढ़ाई शोभा

कवि सम्मेलन में महर्षि दयानन्द को कवियों ने वताया विद्रोही सन्यासी

महर्षि दयानन्द सरस्वती योग संस्थान आर्य समाज महरौनी के तत्वाधान में चार दिवसीय विश्व कल्याण महायज्ञ, वेद कथा,भजन,प्रवचन एवं कवि सम्मेलन के अतंर्गत प्रथम दिवस का शुभारंभ अखिल भारतीय कवि सम्मेलन में लोकप्रिय जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह को विकास पुरूष की उपाधि से अलंकृत व विशाल शोभायात्रा जिसमें आर्य वीरांगनाओ के अद्भुत शस्त चालन से संम्पन हुई।

सर्व प्रथम अपरान्ह 3 बजे से विशाल शोभायात्रा रामलीला मैदान से प्रारंभ होकर नगर के मुख्य चौराहों से होकर अखाड़ें के अद्भुत बालक-बालिकाओं के द्वारा तलवार,लाठी,बदन तोड़,सटका फड़ी,चक्र,बनेती आदि शस्त्र चलन लोगों के आकर्षण का केंद्र रहा।

शाम के द्वितीय सत्र में अखिल भरतीय कवि सम्मेलन लोकप्रिय जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह के मुख्य आतिथ्य व सेन सविता समाज एकता समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष समाजसेवी राकेश सेन झाँसी की अध्यक्षता में व आर्य जगत के मूर्धन्य सन्यासी डॉ गुरुकुलानंद सरस्वती(डॉ कच्चाहरी),बंश मुनि लखनऊ, उपजिलाधिकारी कौंच गुलाब सिंह,उपजिलाधिकारी ज्ञानेश्वर प्रसाद,पुलिस उपाधीक्षक जय नारायण की मौजूदगी में संम्पन हुआ
जिसमें जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह को आर्य समाज के संरक्षक ब्लाक प्रमुख देवेंद्र प्रताप सिंह,नगर पंचायत अध्यक्ष कृष्णा सिंह,पूर्व ब्लाक प्रमुख दरयाव सिंह परमार,आर्य समाज के प्रधान मुनि पुरुषोत्तम वानप्रस्थ द्वारा विकास पुरुष की उपाधि से अलंकृत किया गया
जिसमें प्रशस्ति पत्र,ओम-गायत्री मंत्र लिखित बस्त्र, ओम लिखित स्मृति चिन्ह,महाराणा प्रताप की मूर्ति स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।
जिलाधिकारी ने कहा कि आर्य समाज व महरौनी की जनता ने जो मुझे विकास पुरूष की उपाधि से नाबाजा हैं उस सम्मान को पाकर में अभिभूत हूँ और आगे भी अपने कर्तव्यों का निर्वाहन शासन की मंशा के अनुरूप समाज व राष्ट्र हित मे करता रहूंगा।
अध्यक्षीय उद्बोधन देते हुए सेन सविता समाज एकता समिति के रास्ट्रीय अध्यक्ष राकेश सेन ने कहा कि महर्षि दयानन्द सरस्वती के उपकार गिनाएं नही जा सकते।
जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह द्वारा आमन्त्रित कवि बलराम सरस एटा,धर्मेश अविचल गुरुकुल इंद्रप्रस्थ फरीदाबाद,रामऔतार योगी एटा,क्रांति गुरु महेश योगी नोएडा,गीतिका वेदिका टीकमगढ,पंकज अंगार ललितपुर,सुदेश सोनी ललितपुर,राजेन्द्र बिदुआ बुन्देली टीकमगढ,जैन वीरेंद्र विद्रोही ललितपुर, पण्डित पंकज बिदुआ ललितपुर,सोनिया शबनम ललितपुर को राष्ट्र हित मे कविता पाठ करने पर प्रशस्ति पत्र -ओम गायत्री मंत्र लिखित वस्त्र देकर सम्मानित किया गया।
कवियों ने राष्ट्र भक्ति श्रृंगार,वीर रस व महर्षि दयानन्द की विचारों व सिद्धांतो को कविता में पिरोकर लोगों को मध्य रात्रि तक सुनकर खूब तालियां बटोरी।
कायर्क्रम को सफल बनाने के लिए आर्य समाज के प्रधान मुनि पुरुषोत्तम वानप्रस्थ,प्रभारी निरीक्षक महेंद्र प्रताप सिंह यादव झाँसी,उप प्रधान हरप्रसाद प्रजापति,मंन्त्री लखन लाल आर्य,महाराज पुर आर्य समाज के प्रधान जय नारायण आर्य,मंत्री दीन दयाल गुप्ता,भजोपदेशक भवदेव शास्त्री,रविन्द्र सिंह सेंगर छोटू,दिनेश सिंह,मानसिंह,राजेन्द्र प्रजापति शिक्षक,रामकुमार सेन अजान,विवेकानंद प्रजापति शिक्षक,राजेन्द्र सिंह रज्जू, सन्दीप सोनी,रामसेवक निरजंन,दूधलाल यादव,फूल सिंह लोधी,अभिषेक सोनी,परमानन्द सोनी भोपाल,देवेंद्र-ललित सेन,मनोज सेन का विशेष सहयोग रहा ।
संचालन आर्य समाज के मंन्त्री आर्यरत्न शिक्षक लखन लाल आर्य व आभार संरक्षक दरयाव सिंह परमार पूर्व ब्लाक प्रमुख ने जताया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

26 − = 25