स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण-2018 में जिला को नंबर वन बनाना है- डीएम

0
Online Hindi news paper khabren apne nagar ki
Online Hindi Newspaper: खबरें अपने नगर की

स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण-2018 में जिला को नंबर वन बनाना है- डीएम
*ललितपुर*,

*बैठक में दी गयी सर्वेक्षण संबंधी आवश्यक जानकारी और दिशा निर्देश

*महरौनी*/ललितपुर- गांवो में स्वच्छता की सही स्थिति का आंकलन करने हेतु 1 अगस्त से 31 अगस्त तक स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण 2018 के अंतर्गत गांवों का सर्वेक्षण किया जाना है ,जिसमें केन्द्र सरकार की ओर से भेजी गयी टीम गांवों का भ्रमण करके यहां सफाई की स्थिति की समुचित जांच की जायेगी। इसी संबंध में आवश्यक जानकारी और दिशा निर्देश देने के लिये शुक्रवार दोपहर जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में एक बैठक सामुदायिक विकास भवन में आहूत की गयी । जिसमें सभी से एकजुट होकर अपने संबंधित ग्रामों में स्वच्छता पर विशेष ध्यान देने और लोगों को साफ सफाई के प्रति जागरूक कर आगामी इस सर्वेक्षण में जिला में नंबर वन स्थान दिलाने का अह्वान किया गया।

*कार्यक्रम में सर्वप्रथम पूर्व माध्यमिक विद्यालय मडावरा रोड महरौनी के छात्र छात्राओं ने खुले में शौच से मुक्ति विषय पर* *नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत कर जागरूकता का संदेश दिया* । *तत्पश्चात खण्ड विकास* *अधिकारी अजय कुमार शर्मा ने सर्वेक्षण कार्यक्रम की रूपरेखा से सभी को अवगत कराया* । *उन्होंने बताया कि सर्वेक्षण के अंतर्गत* *अलग अलग मानकों के आधार पर अंक निर्धारण किया गया है। इनमें प्रत्यक्ष सर्वेक्षण हेतु 30 अंक जिनमें संबंधित गांव के सार्वजनिक स्थल जैसे विद्यालय* ,आंगनबाड़ी केन्द्र, स्वास्थ्य केन्द्र,हाट-बाज़ार स्थल* और धार्मिक स्थलों पर स्वच्छता की निगरानी से संबंधित रहेंगे*। इसमें वहां शौचालय की* उपलब्धता, उनका उपयोग, सार्वजनिक स्थलों पर साफ सफाई ,जलभराव की स्थित आदि के आधार पर अंक दिये जायेंगे। वहीं ग्रामीणों की प्रतिक्रिया ली जायेगी और जन जागरूकता के आधार पर अंकों का निर्धारण किया जायेगा।टीमों द्वारा गाँवो यह निरीक्षण किया जायेगा कि स्वच्छता हेतु क्या प्रचार प्रसार किया गया है और जागरूकता संदेशों की स्थिति के आधार पर भी प्रतिक्रिया ली जायेगी और अंक दिये जायेंगे।शौचालय आच्छादन के आधार पर भी आंकलन कर अंक दिये जायेंगे। इसके अलावा गांवो में पानी की उचित निकासी हेतु नालियों, शौचालयों, तालाबों और कचरा निस्तारण की व्यवस्था का अवलोकन कर अंक दिये जायेंगे। इस तरह से सबसे अधिक अंक पाने वाली ग्राम पंचायतों को सम्मानित किया जायेगा।

इस मौके पर खण्ड शिक्षा अधिकारी योगेन्द्र नाथ ने भी बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से विद्यालयों में स्वच्छता पर विशेष ध्यान देने और विद्यालय के बच्चों के माध्यम से गांवों में जनजागरूकता रैलियां निकालकर सर्वेक्षण के संबंध में ग्रामीणों को जानकारी देने व जागरूक करने की बात कही।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि साफ सफाई से ही उत्तम स्वास्थ्य रह सकता है और गंदगी बीमारियों की प्रमुख जड़ है , इस संदेश को सभी लोगों तक पहुँचाने की दिशा में सभी एएनएम ,आशा कार्यकत्रियों व स्वास्थ्य विभाग के सभी लोगों से गांवों में साफ सफाई व स्वास्थ्य को लेकर विशेष जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश दिये। मुख्य विकास अधिकारी शिवनारायण ने सभी ग्राम पंचायतों के ग्राम प्रधानों, ग्राम विकास अधिकारियों, सफाईकर्मियों को और सीडीपीओ पुष्पा वर्मा ने आंगनवाड़ी सहायिकाओं आदि को इस दिशा में आवश्यक निर्देश दिये । स्वच्छता अभियान की जिला कार्डिनेटर तबस्सुम ने भी सर्वेक्षण कार्यक्रम के संबंध में विस्तृत जानकारी दी।
कार्यक्रम में जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने अपने उद्बोधन में कहा कि साफ सफाई किसी के दिखाने के लिये या निरीक्षण के भय से नहीं बल्कि स्वतः ही करनी चाहिये क्योंकि जहां साफ स्वच्छ वातावरण होता है वहां स्वस्थ्य तन मन का विकास होता है। खुद भी अपने आसपड़ोस व गांव को साफ सुथरा बनाने में सहयोग करें और अन्य लोगों को भी प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि भारत सरकार द्वारा आगामी 1 अगस्त से स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण में सभी की सहभागिता आवश्यक है और हर गांव में विशेष सफाई अभियान चलाये जायें। सर्वेक्षण के प्रारूप को ध्यान में रखकर उल्लेखित विन्दुओं पर पूर्ण मनोयोग से काम करें। इसमें ग्राम प्रधानों की अहम भूमिका है और सर्व साधारण की स्वच्छता के प्रति जागरूकता से ही स्वच्छ भारत अभियान की सफलता संभव है। उन्होंने गांवों को शौचमुक्त करने की बात पर विशेष जोर दिया और शौचालय निर्माण में कोई कोताही ना बरतने और साथ ही अधूरे पडे काम शीघ्र पूरे करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की टीम किसी भी ग्राम पंचायत का आकस्मिक निरीक्षण कर सकती है इसलिए सभी व्यवस्थायें चाक चौबंद होनी चाहिए ताकि हम स्वच्छता सर्वेक्षण में अपने जनपद को उच्च स्थान दिला सकें।
कार्यक्रम का संचालन लखनलाल आर्य ने किया और आभार पूर्व ब्लाक प्रमुख दरयाव सिंह परमार ने जताया।
इस मौके पर एसडीएम महरौनी धीरेन्द्र प्रताप ,तहसीलदार गुलाब सिंह,ब्लाक प्रमुख देवेन्द्र प्रताप सिंह आदि सहित अनेक ग्राम प्रधान ,ग्राम पंचायत अधिकारी , एएनएम, आशा,आंगनबाड़ी कार्यकत्रियां, सफाईकर्मी व अधिकारी/कर्मचारी गण मौजूद रहे।

रिपोर्ट हरीराम पाल महरौनी (पथराई)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

− 1 = 2