बस्ती- सूखी पड़ी नहरें बढ़ी किसानो की मुसीबत

0

बस्ती- सूखी पड़ी नहरें बढ़ी किसानो की मुसीबत


हर्रैया, बस्ती:- विक्रमजोत ब्लॉक के अंतर्गत आने वाली अधिकतम नहरों के सिल्ट सफाई का कार्य अभी तक पूरा नहीं हुआ । जिसके कारण नहरें सूखी हैं। ऐसे में खेतों की सिंचाई कैसे होगी। डीजल की महंगाई से हाफ रहे किसानों के लिए सस्ती दर पर मिलने वाली नहरों के पानी भी भगवान के भरोसे की तरह जिम्मेदारों के उदासीनता के कारण नहीं मिल पा रहा हैं। जिसका प्रमुख कारण यह है कि सरयू परियोजना से जुड़ी नहरें सूखी पड़ी है।माइनरों में अभी तक पानी नहीं आया हैं। जिसके कारण अपने फसल की सिंचाई के लिए पानी के लिए मारे-मारे फिर रहे हैं।

कम्बल वितरण जरूरतमंदों के लिए आप भी सहभागी हो
कम्बल वितरण जरूरतमंदों के लिए आप भी सहभागी हो

विभागीय सूत्रों की माने तो अभी तक नहरों के टेल की सफाई नहीं हो पायी हैं । इसके कारण माइनरों में पानी छोड़ने में देरी हो रही हैं। जिसका खामियाजा किसानों को उठाना पड़ रहा हैं। प्रगतिशील कृषक शेखपुरा के कैलाश नाथ,शिवाकांत, ओमप्रकाश, कमलेश कुमार, बृजकिशोर, रामसागर, संतू प्रसाद चौधरी, चन्द्र प्रकाश श्रीवास्तव, वीरेन्द्र श्रीवास्तव, व शोभाराम यादव,मस्तराम भट्ट, आदि ने जिले के उच्चाधिकारियों से तत्काल नहरों में पानी छोड़ने की मांग किया हैं।
रिपोर्ट शिवदिनेश शर्मा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

11 − = 1