क्या भाजपा सरकार में दलित महिला कर्मचारी सुरक्षित नहीं है ?

0

दलित महिला कर्मचारी ने प्रदेश भाजपा युवा मोर्चा कार्यकारिणी समिति के सदस्य संजय पाण्डेय पर शोषण का लगाया आरोप।
सीधी।
दलित महिला कर्मचारी ने प्रदेश भाजपा युवा मोर्चा कार्यकारिणी समिति के सदस्य संजय पाण्डेय पर शोषण का लगाया आरोप।

क्या भाजपा सरकार में दलित महिला कर्मचारी सुरक्षित नहीं है ?

सीधी सांसद एवं भाजपा नेताओं को दलित महिला कर्मचारी ने लिया आँड़े हाथों।

दलित महिला कर्मचारी ममता सूर्यवंशी ने शोषण के विरुद्ध प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लिखा पत्र।

म.प्र. के सीधी जिला में महिला कर्मचारी ने भाजयुमों नेता पर कई वर्षाे से प्रताड़ना का लगाया आरोप एवं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को ट्वीटर पर शिकायत की है। एवं उनसे न्याय की गुहार लगायी है। आपको बताते चले ममला सूर्यवंशी वर्तमान में सहायक अध्यापक शासकीय अनुसूचित जाति सीनियर कन्या छात्रावास चुरहट में अधिक्षक के पद पर पदस्त है। श्री सूर्यवंशी ने प्रधानमंत्री को शिकायत में लिखा हैं भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा म.प्र. के कार्यकारिणी समिति के सदस्य संजय पाण्डेय निवासी वार्ड क्र. 05, नगर पंचायत चुरहट जिला सीधी ने मुझे वर्षाे से प्रताड़ित किया है। मुझे तीन चार वर्षाे से इतना अधिक प्रताड़ित कर रहा है, कि अब मुझसे अन्याय सहन नहीं हुआ तो मैं अपनी जीवन लीला का अंत करने के लिए सोंचने की स्थिति में पहुँच चुकी हूँ। मुझे अब सिर्फ नरेन्द्र मोदी से ही न्याय की उम्मीद है। इसलिए अपनी इस आखिरी उम्मीद को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लिख रही हूँ पत्र। जब से शासकीय अनुसूचित जाति सीनियर कन्या छात्रावास की जिम्मेदारी संभाली है। तब से संजय पाण्डेय ने रंगदारी बतौर दस हजार रुपये महीने मांग की है न देने पर मेरे विरुद्ध शिकायत लगातार कर रहा था। मेरी जाॅच विभाग द्वारा कई बार करवायी है। लेकिन हर बार झूठी शिकायत पायी गई। मैं जब भी चुरहट बाजार सब्जी-भाजी या अन्य सामग्री खरीदने के लिए जाती हूँ बीच शहर में जाति सूचक गालियाँ दी जाती है और मुझे अपमानित किया जाता है। छात्रावास में आकर असलीलता भरी बातें यौन शोषण के लिए दबाव बनाता है। मैने 15 मार्च 2016 को चुरहट पुलिस थाने में संजय पाण्डेय की शिकायत की थी तो मुझे चुरहट पुलिस ने जिले में जाने को कहा था जिले में जाकर मै रिपोर्ट लिखायी। एक माह बाद संजय पाण्डेय के विरुद्ध मामला दर्ज हुआ था। बाद में प्रकरण दर्ज होने के उपरान्त पुलिस ने मन-मुताबिक प्रकरण दर्ज किया था। ममता सूर्यवंशी ने बताया कि आरोपी संजय पाण्डेय भाजपा नेताओं के साथ एवं पिकनिक मनाने जाते है। आपको बताते चले एस.टी.एस.सी. एक्ट का आरोपी होते हुए भी उसे भाजपा कार्यकारिणी समिति में जगह मिली। सीधी सांसद दलित महिला का अपमान करने वाले एवं शोषण करने वाले को लोकसभा स्पीकर रेलमंत्री प्रधानमंत्री से मिलवाती है। ये दलित महिला की तकलीफ को नहीं समझती खुले आम शोषण करने वाले को संरक्षण देती है। मुझे लगता है कि संविधान के आगे घुटने टेक दिए है।

सुरेंद्र पटेरिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

+ 24 = 34