50 लाख की पुरानी करेंसी के साथ चार युवक गिरफ्तार, बैंक मैनेजर करता था पुराने नोट बदलने का कारोबार

0

लखनऊ । मोदी सरकार ने भले ही लगभग डेढ़ साल पहले ही 500 और 1000 रुपए के नोट को अवैध घोषित कर दिया था । लेकिन उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अभी भी कमीशन को लेकर पुराने नोटों को बदलने का काला कारोबार जारी है । लखनऊ की क्राइम ब्रांच ने हजरतगंज इलाके से चार लोगो को 50 लाख के पुराने नोटो के साथ गिरफ्तार किया है । पकड़े गय लोग कोऑपरेटिव बैंक के अधिकारी की साठगांठ से नेपाल ले जाकर कमीशन पर नोट बदलने का काम किया जा रहा था ।

भले ही पुराने 500 और हजार के नोट अब चलन में न हो मगर आज भी पुराने नोट बदलने का काला कारोबार किया जा रहा है । लखनऊ की क्राइम ब्रांच की टीम ने चार लोगो को 50 लाख के पुराने नोटों के साथ पकड़ा तो जाच के दौरान ये खुलासा हुआ है । लखनऊ के हजरतगंज और क्राइम ब्रांच की टीम ने शनिवार देर शाम स्विफ्ट कार सवार अमर नाथ यादव, राजेश कुमार गौतम, कृष्ण कुमार वर्मा और सुमित वर्मा नाम के चार लोगों को मुखबिर की सूचना पर पकड़ा तो कमीशन पर पुराने बन्द हो चुके नोट बदलने के कारोबार होने का खुलासा हुआ ।

पुलिस के मुताबिक इस काले कारोबार के पीछे सतीश वर्मा नाम का युवक मास्टरमाइंड है । जो यूपी कोआपरेटिव मुख्यालय शाखा में असिस्टेंट मैनेजर है जो पुराने नोट नेपाल भेजकर बदलवाता था । नेपाल में एक करोड़ के बदले 14 लाख रुपये बदल कर मिलता था । जिसमे 6 लाख कमीशन लेकर सतीश वर्मा नोट बदलने का काम करता था । जबकि नोट बदलवाने आए लोगो को इसके बदले 8 लाख रुपये दिए जाते थे । पुलिस फिलहाल गिरफ्तार आरोपियों से आगे की पूछताछ कर रही है

आर.एस.पाल की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

20 + = 30