हरियाणा में 50 हजार नौकरियां देने की तैयारी

0

16 जुलाई 2018
संजय पांचाल रोहतक(हरियाणा)

हरियाणा रोजगार विभाग ने प्रदेश में चालकों और सिक्योरिटी गार्डों के रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए आज फरीदाबाद में औद्योगिक प्रशिक्षण मंत्री विपुल गोयल की उपस्थिति में जी4एस, उबर, ओला और जगुआर फाउंडेशन के साथ चार एमओयू पर हस्ताक्षर किए।

एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि विपुल गोयल ने प्रदेश में चालकों के रोजगार के अवसर बढ़ाने के दृष्टिगत ओला और उबर के साथ भागीदारी करके सक्षम सारथी का शुभारम्भ किया। इसके लिए ओला और उबर कम्पनियों ने प्रदेश में अपने कार्य का विस्तार करने पर सहमति व्यक्त की है।

इसी प्रकार, प्रदेश में सिक्योरिटी गार्डस के रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए जी4एस के साथ भागीदारी करके सक्षम रक्षक का शुभारम्भ किया गया। इसके लिए जी4एस ने हरियाणा में अपना व्यापार बढ़ाने पर सहमति व्यक्त की।

प्रदेश में युवाओं के कौशल में सुधार लाने के लिए मिशन और जगुआर फाउंडेशन के बीच एक एमओयू पर भी हस्ताक्षर किए गये। सभी सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों के लिए ग्रेड स्तरीय सक्षमता हासिल करने और हरियाणा के कम से कम दो लाख युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए जुलाई, 2017 में सक्षम हरियाणा का शुभारम्भ किया गया।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सक्षम हरियाणा के लिए ओला, उबर, जी4ए और जगुआर फाउंडेशन को उनके सहयोग के आभार व्यक्त किया और युवाओं से इस पहल का श्रेष्ठ उपयोग करने का आग्रह किया।

सक्षम हरियाणा के रूप में नेशनल एपरेंटिसशिप प्रमोशन स्कीम (एनएपीएस) को भी प्रदेश में सफलतापूर्वक लागू किया गया। उन्होंने बताया कि इस समय विभिन्न क्षमताओं में 24,000 से अधिक युवा एपरेंटिस लगे हुए हैं।

प्रवक्ता ने कहा कि 22 प्राइवेट उद्योगों ने अपनी जनशक्ति का 5 प्रतिशत से अधिक एपरेंटिस लगाए हुए हैं, जो कानून द्वारा न्यूनतम 2.5 प्रतिशत से अधिक लगाना अनिवार्य है। इन उद्योगों को मुख्यमंत्री द्वारा सक्षम साथी के रूप में सुविधा दी है।

अक्तूबर, 2017 में भारत सरकार ने चैम्पियन ऑफ चेंज अवार्ड के हरियाणा के प्रयासों को मान्यता दी। इस पहल को निजी क्षेत्र से बड़ा सहयोग मिला है।

उन्होंने बताया कि सात शिक्षा खण्ड – साल्हावास, बेरी-1, अटेली-2 और झज्जर में मातनहेल, पानीपत में इसराना, चरखी-दादरी में बौंदकला, महेन्द्रगढ़ में महेन्द्रगढ़ के विद्यार्थियों ने ग्रेड स्तरीय सक्षमता पहले ही हासिल कर ली है।

सक्षम हरियाणा के तहत अनेक पहलें पाइप लाइन में हैं और शीघ्र ही उनका शुभारम्भ किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार राजकीय स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए और प्रदेश के युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए कृत संकल्प है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

20 + = 29