वृक्ष देना उनको लगाना एवं उनका पालन पोषण करना पर्यावरण संरक्षण के लिए बहुत ही पुनीत कार्य है

0

रिपोर्ट आर.एस.पाल

कमलापुर 3 अगस्त। वृक्ष देना उनको लगाना एवं उनका पालन पोषण करना पर्यावरण संरक्षण के लिए बहुत ही पुनीत कार्य है। यह बात श्री ओमप्रकाश सिंह फाउंडेशन के के प्रस्ताव पर पार्वती विद्या मंदिर जूनियर हाई स्कूल कसमंडा में वन विभाग द्वारा आयोजित वृक्ष भंडारा कार्यक्रम में संबोधित करते हुए श्री माधवानंद जी महाराज मठाधीश श्री जगदेवा आश्रम रामताल रामेश्वर तीर्थ कसमण्डा  ने कहीं। उन्होंने कहा आज इस भौतिकवादी युग में मानव समाज अपने स्वार्थ के चलते दिन पर दिन जो पर्यावरण को क्षति पहुंचा रहा है इस क्षति की पूर्ति वृक्षारोपण करके ही पूरा किया जा सकता है ।पूर्व प्रधानाचार्य एवं विद्यालय के प्रबंधक श्री त्रिभुवन सिंह ने कहा की आपको यह जो पौधे दिए जा रहे हैं यह आप लगाएंगे और लगाकर यूं ही छोड़ नहीं देंगे इन पौधों के रोपण के साथ साथ इनकी सुरक्षा और नियमित देखभाल करनी है तभी अच्छा परिणाम मिलेगा।  अध्यक्ष  राजेंद्र कुमार सिंह  ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा की इन पौधों को आप लगाइए और यह इस विद्यालय स्मृति की एक निशानी है। डिप्टी रेंजर अनिल कुमार सिंह ने कहा की पर्यावरण को अच्छा बनाए रखने के लिए 33% धरती पर वृक्षारोपण होना चाहिए लेकिन उत्तर प्रदेश में महज अभी तक के 10% के आसपास है उत्तर प्रदेश सरकार वन क्षेत्रफल को बढ़ाने के लिए लगातार प्रयासरत है इस वर्ष भी 15 अगस्त को प्रदेश सरकार इतिहास रचने जा रही है करोड़ों की संख्या में पौधरोपण होना है। उस कार्यक्रम में भी आप लोग सहभागी बने और वृक्षारोपण करें ।कार्यक्रम का संचालन पर्यावरण शिक्षक सत्य प्रकाश सिंह ने किया और उन्होंने  वन विभाग  के अधिकारियों  के प्रति वृक्ष भंडारा के लिए आभार व्यक्त किया। सभा को प्रधानाध्यापक अमरेंद्र प्रताप सिंह शिक्षक रवि प्रकाश सिंह एवं शिक्षक एवं तहसील संयोजक श्री ओमप्रकाश सिंह फाउंडेशन गिरिराज यादव ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर सामाजिक कार्यकर्ता प्रताप सिंह सिसोदिया फोरेस्टर अनुरुद्ध वर्मा अध्यक्ष राजेंद्र कुमार सिंह प्रबंधक त्रिभुवन सिंह अमरेंद्र प्रताप सिंह विनय पाल सिंह सत्य प्रकाश सिंह रवि प्रकाश सिंह गिरिराज यादव नंदराम शांति देवी मुन्नी देवी पुष्पा देवी सहित गणमान्य लोग एवं छात्र छात्राएं उपस्थित रहे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

+ 15 = 21