रोहतक पुलिस को मिली सफलता, लूट का गिरोह दबोचा

0

23 जुलाई 2018
संजय पांचाल रोहतक(हरियाणा)

रोहतक। पुलिस की सीआईए-2 की टीम ने तीन महीने पहले सांपला एरीया से कॉपर वायर से भरे ट्रक की लूट की वारदात को सफलतापूर्वक हल कर लिया है। ट्रक में 21 टन कॉपर वायर थी जिसकी किमत 1 करोड़ 15 लाख रुपयें है। अज्ञात युवको ने हथियारों के बल पर ट्रक को चालक, कंडक्टर व सिक्योरिटी गार्ड सहित हाईजेक कर लिया था तथा उत्तर प्रदेश में सिक्योरिटी गार्ड को फेंक दिया था।

जांच में पाया गया कि चालक, कंडक्टर ने अपने साथियों के साथ मिलकर लूट की वारदात को अंजाम दिया है। लूट की पीछे एक गिरोह का हाथ है जिसने चालक व कंडक्टर को रुपयों का लालच देकर लूट की वारदात को अंजाम दिया। गिरोह द्वारा अन्य राज्यों में लूट की वारदातों को अंजाम दे रखा है। सीआईए-2 की टीम ने छापेमारी करते हुए उत्तर प्रदेश से ट्रक के चालक व वारदात में शामिल रहे एक युवक को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। आरोपियों को अदालत में पेश किया गया । अदालत के आदेश पर आरोपियों को 11 दिन के पुलिस हिरासत पर हासिल किया गया

गौरतलब है कि गांव नैनू जिला मथुरा (उत्तर प्रदेश) निवासी बदन सिंह ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई कि वह संरक्षक मेन पावर सर्विस बावल में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करता है। 19 फरवरी को ट्रक नम्बर RJ-06GA-7916 गुजरात से कॉपर वायर लेकर बावल आया था जिसका चालक प्रतापगढ़ (उत्तर प्रदेश) निवासी संजय व उत्तर प्रदेश निवासी युवक कंडक्टर था। उसकी ड्यूटी बतौर सिक्योरिटी गार्ड ट्रक को बावल से गाजियाबाद पहुँचाने के लगी थी।

रात करीब साढ़े 10 बजे ट्रक नया बांस व भैसरु गांव के बीच पहुँचा तो ड्राईवर ने पेशाब करने के लिए ट्रक रोक दिया। तभी ट्रक के आगे आकर एक कार रुकी जिसमें से चार व्यक्ति उतरे तथा उसको ट्रक से नीचे उतारकर बंधक बना लिया। काफी दूर चलने के बाद आरोपी उसे उत्तर प्रदेश में रामपुर में फेंककर फरार हो गए। काफी तलाश करने के बाद भी ट्रक, चालक संजय व कंडक्टर के बारे में कुछ पता नही चल सका।

प्रारंभिक जांच में सामने आया कि ट्रक में जीपीस लगा हुआ था। ट्रक की आखरी लोकेशन बागपत की पाई गई। ट्रक पर चालक रहे संजय की भूमिक पर संदेह हुआ। 21 मई को सीआईए-2 की टीम ने स.उप.नि. अनेश के नेतृत्व में छापेमारी करते हुए ट्रक पर चालक रहे संजयपाल पुत्र राज बहादुरपाल निवासी धरौली मधपुर (उत्तर प्रदेश) तथा वारदात में शामिल रहे रवि पुत्र शिवकुमार निवासी करौमी (उत्तर प्रदेश) को गांव कौहन्डौर जिला प्रतापगढ़ (उत्तर प्रदेश) से गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है।

आरोपियों ने बताया कि उन्होंने अपने साथी धरौली मधपुर (उत्तर प्रदेश) निवासी रोशन अली, शेखचन्द उर्फ बल्ले व कौहन्डौर जिला प्रतापगढ़ (उत्तर प्रदेश) निवासी महबुब अली उर्फ खुजे व अन्य के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

71 + = 77