मुहर्रम पर ताजियों की भव्य शोभा यात्रा।

0

फोटो परिचय- मुहर्रम पर ताजियों की भव्य शोभा यात्रा।

“सामाजिक सौहार्द की अनूठी मिशाल”
कस्बे में धूमधाम से निकले ताजियों की शोभा यात्रा।

* आकर्षण की केंद्र बनी ताजिया की तिरंगा गुम्बद।

मड़ावरा (ललितपुर)।
उत्तर प्रदेश के ललितपुर जनपद के मड़ावरा तहसील कस्बे में “सामाजिक सौहार्द की मिशाल” देखने को मिली। कस्बा कस्बा मड़ावरा के पठकान जी मंदिर परिसर में गणपति महोत्सव पर्व पर एक ओर जहाँ भागवत कथा का प्रसंग चलता रहा वहीं दूसरी ओर मुहर्रम पर्व पर ताजियों की भव्य शोभा यात्रा भी निकली।
उल्लेखनीय है कि इमाम हुसैन की याद में मुस्लिम समुदाय द्वारा मुहर्रम पर ताजियों की शोभा यात्रा निकाली गई।कस्बे के चारो ताजिया जामा मस्जिद मुहल्ले में इकठ्ठे हुये जहा उनका एक दूसरे का मिलाप हुआ। ताजियों की शोभा यात्रा मस्जिद मुहल्ले से प्रारंभ होकर रावत मुहल्ला से पुराना बाजार, दुकान वाला मुहल्ला, लंबरदार मुहल्ला से मेंन रोड होते हुये थाना परिसर पहुँचे जहाँ अखाड़ा खेला गया। थाना परिसर से डाक बंगला होते हुये करवला पहुँचे जहाँ ताजियों को कर्बला सुपुर्दे खाक किया गया।

इसके साथ ही थाना परिसर में जिला उपाध्यक्ष युवजन सभा आलोक रावत द्वारा ताजिया बनाने वाले चारों कारीगरों को शील्ड और 50-50 रुपये देकर हौसला अफजाई की गयी।

  1. ताजिया में मुख्यरूप से हाजी कामरान, मुजीम खां मास्टर, अजमेरी खां ठेकेदार, मजीद मास्टर, हलकाई शाह, साकिर अली, सराफत अली, असरफ खां ठेकेदार, मुन्ना शाह, शखावत खान, मु0जमील मास्टर, यासीन मास्टर, हमीद मास्टर, रज्जब खान, इमरान खान, रफीस खान, गफ्फार खान, अब्दुल खान, रहमान खां नन्ना, आलोक रावत, मु0 जाकिर मंसूरी, रूपेश विश्वकर्मा, अरमान खान, जुबैर खान, जाविद खान ठेकेदार आदि का सराहनीय योगदान रहा।
    रिपोर्ट- मानसिंह, मड़ावरा, ललितपुर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

41 + = 46