बेवजह हटाए गए 17 सुरक्षा गार्डों को नौकरी पर रखे पीजीआई प्रशासन प्राइवेट कम्पनी कर रही है अनुबंध कर्मचारियों का शोषण-महावीर मलिक

0

22 सितम्बर 2018
रोहतक÷【संजय पांचाल】

रोहतक,पीजीआईएमएस में अनुबन्धित आधार पर सिक्योरिटी गार्ड स्वीट कम्पनी के अधीन रखे गए हैं लेकिन कम्पनी प्रशासन सेवानिवृत्त कर्मचारी ईश्वर शर्मा के साथ मिलीभगत करके बेवजह कई वर्षों से बेहर कार्य करने वाले ईमानदारी व लग्न से अपनी सेवा करने वाले सुरक्षा गार्डों को बेवजह हटाकर श्रम आयुक्त द्वारा जारी हिदायत को दरकिनार करके अपने चहेते अनुभव विहीन नए सुरक्षा गार्डों को पिछले दरवाजे से भर्ती कर रही है। इस कार्य में सहायक सुरक्षा अधिकारी नरेन्द्र सरोहा व मुख्य सुरक्षा अधिकारी ईश्वर शर्मा पूरी तरह से संलिप्त है। यह आरोप आज राष्ट्रीय मजदूर कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव रामकरण हुड्डा व इन्टक नेता महावीर मलिक ने लगाये।

उन्होंने कहा कि अनुबन्धित कर्मचारियों की मांगों का समाधान करने की बजाए कम्पनी प्रबन्धन पीजीआई प्रशासन से मिलीभगत करके जो कर्मचारी अपनी सरकार द्वारा जारी सुविधाओं को लागू करने की बात करते हैं उन्हें अगले दिन आऊटसोर्सि कर्मचारी नियमावली को दरकिनार कर नौकरी से बाहर कर दिया जाता है और हाजिरी लगानी बन्द कर दी जाती है।

इन हटाये गए सुरक्षा गार्डों जिनमें अजमेर, रामकुमार, सतवीर, अंजू, रजनी, मनजीत, सतपाल, बलजीत, अजीत, विजय, सोमबीर, सुनील और न्याल सिंह को कम्पनी ने बेवजह हटा कर अनुभवहीन अपने चहेते सुरक्षा गार्डों को भर्ती कर लिया है। हटाए गए कर्मचारियों ने कहा कि अगर उनकी समस्या का समाधान नहीं हुआ और उन्हें सेवा में नहीं लिया तो हटाए गए सुरक्षा गार्ड वीसी कार्यालय पर अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन करेंगे, जिसकी जिम्मेदारी पीजीआई प्रशासन की होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

45 − = 39