बिश्नोई के अपमान के विरोध में फूंका सीएम का पुतला

0

3 जुलाई 2018
संजय पांचाल रोहतक(हरियाणा)

बिश्नोई के अपमान के विरोध में फूंका सीएम का पुतला
जनता के लिए अशुभ साबित हुए मुख्यमंत्री : पवन शाहपुर

करनाल(हरियाणा)कुलदीप बिश्नोई के प्रति सीएम द्वारा अभद्र शब्दों का प्रयोग करने और झूठ बोलने से रोषजदा कांग्रेस वर्करों और बिश्नोई समर्थकों ने जिला सचिवालय चौक के सामने मुख्यमंत्री का पुतला फूंका। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पवन शाहपुर की अगुवाई में वर्कर और समर्थक सेक्टर 12 पहुंचे। मुख्यमंत्री के खिलाफ जमकर नारे लगाते हुए उन्हें झूठा मुख्यमंत्री करार दिया। इस मौके पर पवन शाहपुर ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल हरियाणा के सबसे झूठे और अनुभवहीन मुख्यमंत्री हैं। सीएम और भाजपा के लोग सम्मानित लोगों के खिलाफ अपशब्दों का प्रयोग करते हैं और बाद में मुकर जाते हैं। पिछले दिनों मुख्यमंत्री ने एक जनसभा के दौरान कुलदीप बिश्नोई को कपूत कहा और अब अपने बयान से मुकर रहे हैं। पहले मनोहर लाल सहित भाजपा के लोग कुलदीप बिश्नोई के पीछे-पीछे भागते थे। कुलदीप बिश्नोई के नाम पर भाजपा ने वोट हथियाने का काम किया। पवन शाहपुर ने कहा कि भजनलाल हरियाणा के सबसे लोकप्रिय मुख्यमंत्री रहे हैं। उनके पुत्र कुलदीप बिश्नोई अपने पिता के दिखाए मार्ग पर चलकर राजनीति को जनसेवा का माध्यम बनाए हुए हैं। कुलदीप बिश्नोई ने कभी लालच की राजनीति नहीं की। उन्होंने हमेशा अपने पिता भजनलाल और हरियाणा की जनता के हित में निर्णय लिए हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पवन शाहपुर ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय नेता नीतिन गडकरी, राजनाथ सिंह, सुष्मा स्वराज हरियाणा विधानसभा चुनाव के समय कुलदीप बिश्नोई को हरियाणा का लोकप्रिय नेता बताकर उनको साथ लेकर चलते थे। जनता से कुलदीप बिश्नोई के नाम पर वोट लिए गए। उन्होंने कहा कि भाजपा धोखेबाजों की पार्टी हैं। भाजपा की नीयत में हमेेशा खोट रहा है। पवन शाहपुर ने कहा कि मुख्यमंत्री का खुद का कोई परिवार नहीं है और वह जनता के लिए अशुभ साबित हुए हैं। अभद्र शब्दों का प्रयोग करना सीएम को शोभा नहीं देता। अगर वह प्रदेश की जनता की सेवा नहीं कर सकते तो सत्ता छोड़ देनी चाहिए। इस अवसर पर पूर्व विधायक नफे सिंह मान, बाल कृष्ण, धर्मपाल डाचर, नरेश पोसवाल, जितेंद्र सैनी, अमन शर्मा, राकेश सेठ, जितेंद्र छाबड़ा, बूटा सिंह, विक्रम सिंह, गगन मेहता, प्रवीन आर्य, सुलतान हथलाना, राजेश मंजूरा, राजेश अरोड़ा, अंकुर मित्तल, कृष्ण मान, विशाल, संजीव, जयवीर, भाग सिंह व पालाराम कश्यप मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

74 − 72 =