नवदम्पत्ति को फालसा का पौधा भेंट

0

पर्यावरण हित मे एक पहल:

पर्यावरण सरंक्षण विषय पर लोगों को जागरूक करने एवं

वृक्षारोपण को बढ़ावा देने के उद्देश्य से कृषि विज्ञान केंद्र, अम्बरपुर,

सीतापुर सिधौली तहसील क्षेत्र में वैज्ञानिक डॉ0 विनोद कुमार सिंह के नेतृत्व में सिधौली विकास खण्ड के गंधौली गांव में एक नई पहल की। गांव के संभ्रांत व्यक्ति पं0 विष्णु कुमार पाण्डेय के भतीजे तथा श्रीमती मंजुमती पाण्डेय एवं स्व0 संतोष कुमार पाण्डेय के सुपुत्र नितेश कुमार पाण्डेय का शुभ विवाह अंकिता के साथ सम्पन्न हुआ। विवाहोपरांत उनके पैतृक गांव में डॉ0 सिंह द्वारा नवविवाहित युगल सहित मौजूद परिवार के सदस्यों, रिश्तेदारों गांव के लोगों को मानव जीवन मे पौधों के महत्व के बारे में विस्तार से बताया गया तथा नवदम्पत्ति को फालसा का पौधा भेंट करके सभी लोगों की उपस्थिति में उनसे पौध रोपण कराया।
डॉ0 सिंह ने पर्यावरण सरंक्षण विषय पर विस्तार से प्रकाश डालते हुये अपने सम्बोधन में कहा कि पेड़ -पौधे हमारे लिए परम् आवश्यक हैं जिनके बिना जीवन सम्भव नही है। सभी को संकल्प लेकर वनस्पतियों के संवर्धन व सरंक्षण में अपना योगदान देना चाहिये। आज हम विकास की अंधी दौड़ में भागते जा रहे हैं हमें विज्ञान पर भरोसा करने के साथ ही अपनी पुरातन संस्कृति को भी सरंक्षित करना होगा। हमारे संस्कार हमें पेड़ पौधों की पूजा करना सिखाते हैं तो इसके पीछे भी वैज्ञानिक कारण हैं। आज लोग कंक्रीट के जंगल खड़े करते जा रहे हैं पर आने वाली पीढ़ी को ऑक्सीजन कैसे मिलेगी यह भी हमें ही समझना होगा। आज पेड़ों की अंधाधुंध कटाई के कारण गर्मी दिनोदिन बढ़ती जा रही है ग्लेशियर पिघलते जा रहे हैं एवं वर्षा भी प्रभावित हो रही है। अतः हम सबको मिलकर बृक्षारोपण को जनांदोलन बनाने की आवश्यकता है। डॉ0 सिंह ने सभी लोगों से अनुरोध किया की जिस तरह से हम लोग शादी के विभिन्न अनुष्ठान करते हैं उसी तरह उसमे पौध रोपण को भी एक अनुष्ठान के रूप में अवश्य शामिल करें तथा अधिक से अधिक लोगों को प्रेरित करके वृक्षारोपण को बढ़ावा देने मे अपना सहयोग करें जिससे हमारा पर्यावरण ठीक हो एवं हमें शुद्ध प्राण वायु, फल, लकड़ी, छाँव, वर्षा आदि प्राप्त हो।
इस अवसर पर सभी प्रतिभागियों ने शपथ लिया की वे खुद भी वृक्षारोपण करेंगे एवं लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करेंगे।

सीतापुर
संवाददाता राम सागर पाल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

52 − = 51