डग्गामार वाहन दे रहे मौत को दावत

0

घुवारा//तहसील घुवारा से 56 गाँव जुडे हुये है जहाँ के निवासी लोग अपने छोटे बडे कामो को अधिकांश घुवारा से पूरा करते है  जो मैजिक व टैक्सियो के दुबारा आते जाते है साथ ही यह सुबिधा लोगो के लिए एक ओर अच्छी दिखाई देती है लेकिन दूसरी ओर यह सुबिधा लोगो को हमेशा मौत को दावत देते हुये खडी रहती है क्योकि शासन ने बाहनो मे बैठने के लिए सीट व उसमे सबारियो को निर्धारित किया गया लेकिन ये मैजिक व टैक्सियाँ दुगने  लाभ कमाने के चक्कर मे सबारियो को भूसे की तरह बैठाते है जिससे हमेशा हादसे की शंका बनी रहती है साथ ही कई बार ओवरलोड होने के कारण कई टैक्सिया पलट गई है जिसमे कई लोग  बिकलागं हो गये है और  कई लोग मौत को गले लगा चुके है लेकिन उसके बाद भी पुलिस प्रशासन कुभंकर्ण भरी नीद से नही जाग रहा है कई बार लोगो ने पुलिस प्रशासन को अवगत कराया उसके बाद भी किसी प्रकार कोई कार्यवाही नही की जा रही है जिससे चौकी प्रभारी की कार्यशैली संदिग्ध के मामले मे दिखाई देने लगी है कि जब नगर से करीब 100 मैजिक व टैक्सी बिना परमिट बिना फिटनिश के चौकी के सामने से ही खुलेआम गुजर रही है और किसी प्रकार कोई कार्यबाही नही हो रही जो साफ तौर पर कहा जा सकता है कि बिना चौकी प्रभारी की परमीशन के कैसे चलती होगी वही इस सबंध मे जब पडताल गई तो नाम न छापते हुये एक टैक्सी बाले ने बताया कि हम सभी बाहन बाले सुबिधा शुल्क देते है इससे आज स्थानीय पुलिस प्रशासन की जगह जगह चर्चा का बिषय बना हुआ है।

रिपोर्ट-सुरेन्द्र

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

41 − = 38