जनक्रांति रथयात्रा में जुटी भीड़ से हुड्डा गदगद

0

25 जुलाई 2018
संजय पांचाल रोहतक(हरियाणा)

रोहतक। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि उनके चौथे चरण की जन क्रांति यात्रा में मिले भारी जन समर्थन से यह सिद्ध हो रहा है कि प्रदेश की वर्तमान सरकार से हर वर्ग दुखी और परेशान है। उन्होंने कहा कि जनक्रांति रथयात्रा का पांचवां चरण 12 अगस्त को महेंद्रगढ़ से आरंभ होगा। उन्होंने कहा कि जनता बेसब्री से सरकार का तख्ता पलटने के लिए तैयार है। वो बुधवार को डिस्ट्रिक्ट प्रेस क्लब रोहतक में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि कांग्रेस एक राष्ट्रीय पार्टी है और उसमें पदाधिकारी समय समय पर बदलते रहते है। इससे मतभेद की बात सामने नहीं आती। कांग्रेस में सोनिया गांधी और राहुल गांधी ही एक मात्र नेता है। हुड्डा ने कहा कि प्रदेश का हर कांग्रेसी नेता एक ही लक्ष्य पर काम कर रहा है वो है भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकना। उन्होंने प्रदेश सरकार के मुखिया मनोहर लाल खट्टर पर तंज कसते हुए कहा कि वो बताए कि पिछले 4 साल में प्रदेश में कौन सी बड़ी विकास योजना लाए है।

हुड्डा ने कहा कि भाजपा (बीजेपी) बी से मतलब बहुत, ज से झूठी, प से पार्टी यानी की बहुत झूठी पार्टी है। उन्होंने कहा कि भाजपा का नेतृत्व प्रात: से रात तक झूठ बोलने में लगा रहता है। भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में 154 चुनावी वायदे किए थे, जिसमें से एक भी चुनावी वायदा पूरा नहीं किया। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के शासन काल में प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है और अपराधी निरंकुश होकर घूम रहे है व जनता में हताशा फैल चुकी है।

पूर्व सीएम ने जाट आरक्षण संघर्ष समिति द्वारा प्रदेश के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु के सामाजिक बाहिष्कार पर टिप्पणी करते हुए कहा कि इससे समस्या का कोई समाधान नहीं होगा। संघर्ष समिति को पकड़े गए निर्दोष लोगों की पुरजोर पैरवी करनी चाहिए। राजनीति में सामाजिक बहिष्कार का कोई महत्व नहीं होता है। हुड्डा ने कहा कि उन्होंने पिछले 10 साल के शासनकाल में प्रदेश में अनेक विश्वविद्यालय, औद्योगिक प्रतिष्ठान, चार बिजली ताप घर, के साथ-साथ पूरे प्रदेश में एक साथ समान विकास करवाए। केवल अपने ही क्षेत्र में विकास करवाने के आरोपों को नकारते हुए हुड्डा ने कहा कि यह आरोप निराधार है।

उन्होंने कालका से लेकर रेवाड़ी, महेंद्रगढ़ तक अनेक विकास कार्य कराकर समानता का परिचय दिया है। उन्होंने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा अविश्वास प्रस्ताव के दौरान पीएम मोदी के गले मिलने को सही करार देते हुए कहा कि यह बड़ों का सम्मान है। भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने प्रदेश में भाजपा द्वारा भारी निवेश लाने पर कहा कि यह झूठ का पुलिंदा है, सरकार स्पष्ट करे कि प्रदेश में कितना निवेश आया औऱ कितने उद्योग स्थापित किए। उन्होंने कहा कि जब उन्होंने सत्ता छोड़ी थी तो केवल 60 हजार करोड़ का घाटा था जो अब एक लाख 60 हजार करोड़ हो चुका है। सरकार बताए कि प्रदेश में घाटा कैसे बढ़ गया।

पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा ने प्रदेश में पेयजल और बिजली के अघोषित कटों पर कहा कि सरकार लोगों को पेयजल औऱ बिजली उपलब्ध कराने में पूरी तरह विफल रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार से उन्होंने पूछा था कि भाखड़ा बांध से हरियाणा को कितने हिस्से पानी मिलता है। फिर पानी कहां गया। उन्होंने कहा कि उनके शासनकाल में प्रदेश में न तो कभी इतना पेयजल का संकट हुआ औऱ न ही बिजली के अघोषित कट लगे थे। एसवाईएल के मुद्दे पर भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि उच्चतम न्यायालय ने इस विषय में अपना निर्णय दे दिया है जिसे क्रियान्वित करना केंद्र सरकार की जिम्मेदारी है। हुड्डा ने शहर में बने एलीवेटेड रोड पर कहा कि यह तो समय ही बताएगा कि इससे किसको लाभ होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

+ 12 = 19