ग्रुप डी की भर्तियों में हो सकती है देरी, पुरानी प्रक्रिया रद्द कर HSSC ने विभागों से दोबारा मांगी डिमांड, चिट्ठी देखिये

0

11 जुलाई 2018
संजय पांचाल रोहतक (हरियाणा)

ग्रुप डी की जिन 38 हजार भर्तियों के लिए राज्य सरकार और मुख्यमंत्री बार-बार लोगों का ध्यान खींच रहे थे और दावा किया जा रहा था कि ये भर्तियां बहुत जल्द होंगी, उनके फिलहाल लटकने के पूरे चांस हैं।

दरअसल हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग ने मार्च-अप्रैल में दो तरह की भर्तियों के लिए विभागों से डिमांड मांगी थी जिनमें से एक सामान्य भर्ती थी और दूसरी खिलाड़ियों और निशक्तों के लिए विशेष भर्ती। अब सरकार ने खिलाड़ियों और अपंगों के लिए चलाए जाने वाले आरक्षण आधारित विशेष भर्ती अभियान को रद्द कर दिया है और विभागों से सिर्फ सामान्य भर्ती प्रक्रिया के लिए डिमांड मांगी है।

HSSC के इस नए आदेश के बाद सभी विभाग फिर से इन पदों के लिए अपनी मांग भेजेंगे और उसके बाद HSSC इनकी भर्ती की प्रक्रिया शुरू करेगा। विज्ञापन दिया जाएगा, आवेदन मांगे जाएंगे और प्रक्रिया के तहत भर्ती की जाएगी। लेकिन पहले वाली प्रक्रिया से यह सब कम से कम 3 महीने देरी से हो पाएगा।

सामान्य भर्ती अभियान स्वीपर, चौकीदार और स्वीपर-सह-चौकीदार के पदों को छोडक़र, शेष सभी ग्रुप डी पदों के लिए होगा। विभागों को निर्देश दिये गये हैं कि समय-समय पर जारी निर्देशों और दिशानिर्देशों के आधार पर ग्रुप डी के पदों के लिए निर्धारित आरक्षण नीति या मानदंडों के अनुसार ही वे डिमांड भेजें।

ग्रुप डी के पदों के संबंध में सामान्य भर्ती अभियान के लिए नए सिरे से मांग भेजने का परामर्श सभी विभागों, आयुक्तों, उपायुक्तों और बोर्डों को दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

55 + = 61