गुरुग्राम में चल रहा है फर्जीवाड़ा, फर्जी कंपनियों द्वारा नौकरी के लिए लोगों को भेजा जा रहा विदेशों में

0

2 अगस्त 2018
संजय पांचाल रोहतक(हरियाणा)

गुरुग्राम में आज भी एक पत्नी इंसाफ की लड़ाई लड़ रही है। करीब एक साल से यह न्याय की गुहार लगा रही है। दरअसल बीते एक साल पहले श्रीलंका में 28 वर्षीय रक्षपाल की संदिग्ध मौत का मामला सामने आया था। मृतक का पार्थिव शरीर भारत लाया गया, वहीं Impceable कम्पनी की तरफ से लापरवाही और फर्जी कागजात के आधार पर रक्षपाल को श्रीलंका भेजने की बात भी सामने आई है।

जबकि कंपनी के पास भी ऐसा कोई लाइसेंस तक मौजूद नही था। अब पूरे एक साल के बाद विदेश मंत्रालय ने इस आरोपित कंपनी के खिलाफ गुरुग्राम पुलिस को लेटर लिख मामला दर्ज करने की बात कही है। गुरुग्राम पुलिस ने भी मृतक की पत्नी की शिकायत पर मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है।

गुरुग्राम के गांव डूंडाहेड़ा में रहने वाली सरवन देवी की माने तो दिल्ली करोल बाग स्थित न्यू रोहतक रोड पर एक कंपनी का कॉरपोरेट ऑफिस जो की गुड़गांव के पालम विहार में है। करीब दो साल पहले एजेंसी ने श्रीलंका में नौकरी के नाम पर उसके पति रक्षपाल को भेजा था।

वहां पर 2017 को संदिग्ध हालात में रक्षपाल की मौत हो गई थी। करीब छह महीने बीतने के बावजूद एजेंसी की ओर से पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट नहीं दी गई। एजेंसी ने परिवार को यह भी नहीं बताया कि उसकी मौत कैसे हुई।

जो फोटो एजेंसी ने दिया उसमें चेहरे पर चोट के निशान हैं। उस बारे में भी एजेंसी नहीं बता रही है। अब महिला व दो बच्चे यहां अकेले हैं। महिला ने आरोप लगाया कि एजेंसी ने अवैध तरीके से उसके पति को श्रीलंका भेजा और वहां पर उसे मार डाला।

महिला ने विदेश मंत्रालय से एजेंसी के खिलाफ कार्रवाई करने के साथ ही मदद की गुहार भी लगाई है। वहीं पालम विहार थाना प्रभारी विक्रम कि माने तो विदेश मंत्रालय से आई शिकायत के आधार पर एफआईआर दर्ज की गई है। मामले की जांच कर एजेंसी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

वहीं आपको बता दें की विदेश भेजने के नाम पर हुई धोखाधड़ी के गुरुग्राम से विभिन्न थानों में बीते 24 घंटे में 5 मामले दर्ज़ किये गए हैं। सभी मिडिल क्लास फैमली से ताल्लुक रखने वाले व्यक्तियों के साथ फ़र्ज़ी दस्तावेज़ों के आधार पर विदेश भेजने की बात सामने आई है। बहरहाल गुरुग्राम पुलिस ने पीड़ितों की शिकायत पर मामला दर्ज़ कर मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

− 3 = 4