गुरुग्राम : प्रद्युम्न मर्डर केस : अरोपी भोलू पर बतौर बालिक केस चलाने पर रोक

0

12 अक्टूबर 2018
हरियाणा÷【संजय पांचाल】

कोर्ट ने कहा है कि जुविनाइल जस्टिस बोर्ड तय करेगा कि आरोपी भोलू बालिग है या नाबालिग

पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने गुरुग्राम सेशन कोर्ट के उस फैसले पर रोक लगा दी है, जिसमें कहा गया था कि प्रद्युम्न मर्डर केस के मुख्‍य आरोपी भोलू पर बतौर बालिग केस चलाया जाए. पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने गुरुग्राम कोर्ट के फैसले को खारिज करते हुए मामला जुविनाइल जस्टिस बोर्ड को भेज दिया है. कोर्ट ने कहा है कि बोर्ड तय करेगा कि आरोपी भोलू बालिग है या नाबालिग.

गौरतलब है कि पिछले साल 8 दिसंबर को गुरुग्राम के एक स्कूल के बाथरूम में कक्षा दूसरी के छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की गला रेत कर हत्या कर दी गई थी. गुरुग्राम पुलिस ने आनन-फानन में स्कूल के कंडक्टर को हत्या का आरोपी बनाया और उसे गिरफ्तार कर लिया. प्रद्युम्न ठाकुर का परिवार गुरुग्राम पुलिस की जांच से संतुष्ट नहीं हुआ. उन्होंने सीबीआई जांच की मांग की. काफी दबाव के बाद यह मामला सीबीआई को सौंपा गया. सीबीआई जांच में सामने आया कि बच्चे की हत्या स्कूल में ही पढ़ने वाले कक्षा 11वीं के छात्र ने की थी. जांच में सामने आया कि छात्र ने परीक्षा रद्द कराने के लिए प्रद्युम्न की हत्या की थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

55 + = 62