गुरुग्राम : एसटीएफ स्टाफ के साथ ईनामी व कुख्यात बदमाशों के साथ हुई मुठभेड़ में बदमाश को लगी पुलिस की गोली,वारदात को अंजाम देने आए थे।

0

19 अगस्त 2018
गुरुग्राम÷【संजय पांचाल】

गुरुग्राम : शनिवार की रात को एसटीएफ स्टाफ के साथ कुख्यात बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में एक बदमाश के पैर में लगी गोली, घायल अवस्था में बदमाश मोनिंदर अपने साथी उधम के साथ पुलिस पार्टी पर फायरिंग करते हुए बाइक से भाग रहे थे पर पुलिस ने दोनों बदमाशों को धर दबोचा। पुलिस की माने तो घायल आरोपी बदमाश को ईलाज हेतु सरकारी हॉस्पिटल में भर्ती कराया है जहां पर उसका अभी इलाज चल रहा हैं। सदर थाने में दोनों आरोपी बदमाशों के खिलाफ भारतीय दंड सहिंता की धारा 186 ,353 ,332 ,307 ,34 व 25 -54 -59 आर्म एक्ट के तहत केस दर्ज किया हैं।

खबर हैं कि एसटीएफ स्टाफ उप -निरीक्षक मदन लाल को सूचना मिली थी कि कुख्यात बदमाश मोनिंदर उर्फ़ मोनू उर्फ़ कल्लू निवासी तिगरा गुरुग्राम व उधम उर्फ़ बची निवासी रहीम पुर ,पलवल दोनों एक बाइक पर सवार होकर किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के फिराक में सेक्टर -34 स्थित मार्बल मार्कीट के समीप मौजूद हैं। इस सूचना को सही मानते हुए अपने टीम के साथ और मुखबिर द्वारा बताए गए स्थान पर पहुंच गए ,उस दौरान दोनों बदमाश अपने बाइक पर सवार थे। बताया गया हैं कि जैसे ही बदमाश मोनिंदर उर्फ़ मोनू उर्फ़ कल्लू की नजर पुलिस के ऊपर पड़ी तो उसने पुलिस से बचने के लिए एसटीएफ स्टाफ के ऊपर ताबड़ तोड़ फायरिंग शुरू कर दी।
पुलिस ने भी जवाव में फायरिंग की जिसकी गोली से बदमाश मोनिंदर उर्फ़ मोनू उफ़ कल्लू के पैर लगी इसके बाद अपने साथी उधम के साथ भागने की कोशिश की पर पुलिस ने दोनों को चारों तरफ से घेर लिया । जांच अधिकारी मोहन पूरी का कहना हैं कि बदमाश मोनिंदर उर्फ़ मोनू उर्फ़ कल्लू पर हत्या व हत्या की कोशिश, रंगदारी के अनगिनित मामले दर्ज हैं। उनका कहना हैं कि कुख्यात बदमाश मोनिंदर अपने चाचा -चाची के ऊपर कई बार गोलियां चला चुका हैं और इसके फायरिंग से उन्हें गोली भी कई बार लग चुकी हैं। शनिवार की रात को भी फिर से अपने चाचा -चाची को गोली मारने के लिए आया था। जिसे मुठभेड़ के बाद बदमाश मोनिंदर व उधम को गिरफ्तार कर लिया गया हैं। अभी घायल मोनिंदर का इलाज एक हॉस्पिटल में चल रहा हैं जबकि उधम को आज अदालत में पेश कर दिया गया हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

− 4 = 4