कृषि सूचना तंत्र के सुदृढ़ीकरण हेतु कृषक निवेश मेला कृषक जनजागरूकता गोष्ठी का हुआ आयोजन

0

फोटो परिचय- कृषक जागरूकता गोष्ठी में संबोधित करते ब्लॉक प्रमुख चन्द्रदीप रावत व उपस्थित कृषक बन्धु ।

कृषि सूचना तंत्र के सुदृढ़ीकरण हेतु कृषक निवेश मेला कृषक जनजागरूकता गोष्ठी का हुआ आयोजन

* गोष्ठी में तीस किसानों की वितरित किये गए 30 मिनी राई किट
* ब्लॉक सभागार मड़ावरा में निवेश मेला कृषक जन जागरूकता गोष्ठी का आयोजन
मड़ावरा (ललितपुर )।
ब्लाक सभागार कक्ष मड़ावरा में कृषि विभाग द्वारा कृषि सूचना तंत्र के सुदृढ़ीकरण हेतु कृषक निवेश मेला एवं कृषक जनजागरूकता गोष्ठी का हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ब्लॉक प्रमुख चन्द्रदीप रावत रहे तथा अध्यक्षता जिलापंचायत सदस्य प्रभुदयाल गन्धर्व ने की । गोष्ठी में कृषि विभाग द्वारा तीस किसानों को 30 मिनी राई किट मुख्य अतिथि द्वारा प्रदान की गई। गोष्ठी में स्टाल लगाकर कृषकों को कृषि संबंधित विभिन्न जानकारियां दी गईं।
कृषि सूचना तंत्र के सुदृढ़ीकरण हेतु कृषक निवेश मेला एवं कृषक जनजागरूकता गोष्ठी को संबोधित करते हुए कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ब्लॉक प्रमुख चन्द्रदीप रावत ने कहा आज कृषि करने की नई तकनीक अपनाकर खेती करने की जरूरत है कम लागत में अधिक उत्पादन कैसे प्राप्त करें, किस फसल को कौन सी मिट्टी वाले खेत मे बोने से अधिक उत्पादन होगा इसके लिये जागरुक होकर कृषक भाई खेती करें जिससे कि कृषक भाइयों को नुकसान न् हो । कहा कि कृषक भाई समय-समय पर कृषि विभाग से संपर्क कर नई योजना व उनन्ति खेती की तकनीकी समझते रहना चाहिये। उन्होंने कहा कि गुणवत्तापूर्ण उत्पादन के लिये देशी खाद का प्रयोग अधिक से अधिक करें तथा रसायन खादों के अंधाधुंध प्रयोग से न सिर्फ जमीन की उर्वरा शक्ति प्रभावित हो रही बल्कि इससे प्राप्त उपज इंसानी सेहत को भी नुकसान पहुंचा रही है वही अच्छी उपज में खेती के मिट्टी का गहराई से जुताई कर पलटना अति आवश्यक है इससे मिट्टी का कठोरपन कम हो जाता है। कहा कि खेती करते समय भू शोधन एवं बीज शोधन करना बहुत जरूरी है किसानों की आय को दुगना करने के लिये खेतों की खाली पड़ी जमीन पर फलदार बृक्ष एवं सब्जियों की खेती करनी होगी साथ ही पशुपालन मतस्य पालन करने चाहिये जिसमें विभाग किसानों को अनुदान देकर उनकी आमदनी बढ़ाने में मदद करता है। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जिला पंचायत सदस्य प्रभू दयाल गन्धर्व ने कहा कि किसान यदि मिट्टी की जाँच कराकर मिट्टी के अनुरुप फसल बोये तो उसे लाभ अधिक होगा तथा नुकसान की संभावनाएं कम होंगी। इसके साथ ही नई-नई जानकारियों से भी किसानों को समय समय पर कृषि विभाग से सम्पर्क कर अवगत होते रहना चाहिये। अच्छा किसान जागरूकता के साथ जब खेती करता है तो उसे अच्छा लाभ भी होता है।
कार्यक्रम में कृषि विभाग के विशेषज्ञ आर के सोनी द्वारा कृषि की नई तकनीक की जानकारी कृषकों को दी गई । कार्यक्रम में बीएसफ कम्पनी के कृष्णेन्द्र द्वारा फसल सुरक्षा हेतु जानकारी दी गयी। कार्यक्रम में लवकुश टोंटे जिला सलाहकार द्वारा कृषि यंत्रों में देय अनुदान की जानकारी दी गयी।

कार्यक्रम में ब्लॉक प्रमुख चन्द्रदीप रावत, जिला पंचायत सदस्य प्रभुदयाल गन्धर्व, सुरेन्द्र सिंह तोमर, भोले राजा, जिला महामंत्री राति राम पटेल, चाँदनी कोरी, सुखराम पटेल, आर. के. सोनी, संतोष चौहान, ध्रुव सिंह, महेन्द्र पटेल, हरगोविंद, कपिल पड़रया, दानिस, धर्मेंद्र, आदि सहित भारी संख्या में महिला-पुरूष कृषक बन्धु उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन कृषि विशेषज्ञ आर.के. सोनी ने किया।
रिपोर्ट- मानसिंह।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

− 1 = 1