इंद्रदेव की नाराजगी गरीबों पर बन कर बरसी कहर । कई दिनों से लगातार रुक रुक कर हो रही बारिश में ढ़हे गरीबों के कच्चे मकान हुए घर से बेघर ?

0

रिपोर्ट श्रवण कुमार मिश्रा

  • मिश्रित – सीतापुर / इंद्रदेव की नाराजगी और कई दिनों से लगातार रुक रुक कर हो रही बारिश कस्बे के कई गरीबों पर कहर बनकर टूट पड़ी है इस धार्मिक कस्बे के कई कच्चे मकान पूरी तरह ढ़ह कर नष्ट हो गए हैं इन मकानों में रखी आवश्यक सामग्री भी मलबे में दब कर नष्ट हो गई है जिससे उनके पास जहां खाने पीने का संकट उत्पन्न हो गया है वहीं ये लोग घर से बेघर होकर खुले आसमान के नीचे गुजर बसर करने पर मजबूर हो रहे हैं प्रदेश साशन के सक्त निर्देशों के बावजूद भी यहॉ के प्रशासनिक अधिकारी उदासीन बने हुए है गौरतलब हो कि नगर पालिका परिषद मिश्रित नैमिषारण्य के अन्तर्गत कस्बा मिश्रित के मोहल्ला थोक में रहने वाले अल्पसंख्यक जलील अहमद पुत्र सुल्तान अहमद , जहंगीर पुत्र मकदूम , जलालू पुत्र करीमुद्दीन काफी गरीब होने के कारण लम्बे समय से कच्चे मकान बनाकर अपने परिवारों के साथ उनमें रह रहे थे लेकिन ऐसे गरीबों पर स्थानीय नगर पालिका के प्रशासनिक अधिकारियों की आज तक नजर पड़ी ही नही जिससे इन गरीबों को एक सरकारी आवास तक नसीब नही हो सका जिसका नतीजा यह है कि कई दिनों से लगातार रुक रुक कर हो रही बारिश के कारण इन गरीबों के कच्चे मकान पूरी तरह गिरकर नष्ट हो गए हैं इन कच्चे मकानों मे रखी आवस्यक सामग्री भी मलबे मे दब कर नष्ट हो गयी है जिससे उनके पास खाने पीने का भी संकट उत्पन्न हो गया है और उनके परिवार खुले आसमान के नीचे गुजर बसर करने पर मजबूर हो रहे है सुक्र है ऊपर वाले का कि यह हादसा दिन के उजाले में हुआ जिससे कोई जान माल का खतरा नही हो सका । फिर भी यहॉ का तहसील प्रशासन और नगर पालिका प्रशासन ऐसे गरीबों की तरफ उदासीन बना हुआ हैं जब कि मौके की जांच करने क्षेत्रीय लेखपाल आनंद सिंह गए थे परन्तु अभी तक इनको कोई भी आवश्यक सुविधा उपलब्ध नहीं कराई जा सकी है इस लिए इन गरीबों ने जिला प्रशासन व प्रदेश शासन का ध्यान इस ओर आकर्षित कराते हुए सरकारी आवास व साशकीय सहायता दिलाये जाने की मांग की है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

+ 30 = 35